0755 – 2674701-02


English | Hindi

* 24 x 7 NEFT सेवाऐं उपलब्ध। ** वरिष्ठ नागरिकों के लिए अधिकतम ब्याज दर उपलब्ध। *** बचत खातों पर 4.25% ब्याज दर। **** न्यूनतम दरों पर लॉकर सेवायें उपलब्ध। ***** प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एवं अटल पेंशन योजना की सुविधा उपलब्ध। ****** अपेक्स बैंक की सभी शाखायें सीबीएस युक्त।
प्रिय ग्राहक, अपेक्स बैंक आपका कार्ड नंबर, कार्ड एक्सपायरी डेट, सीवीवी, पिन, ओटीपी, पासवर्ड जैसे विवरण कभी नहीं मांगता है। कृपया इस तरह के विवरण किसी को भी साझा न करें।
शीर्ष बैंक में 29 अधिकारियों के विभिन्न पदों पर भर्ती हेतु दिनांक 20.03.2021 को आयोजित ऑनलाइन प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट घोषित। रिजल्ट डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। शीर्ष बैंक में 29 अधिकारियों के विभिन्न पदों पर भर्ती हेतु ऑनलाइन मुख्य परीक्षा जून 2021 के पहले सप्ताह में आयोजित की जावेगी। ऑनलाइन प्रारंभिक परीक्षा में सफल हुए सभी उम्मीदवारों को हमारी बधाई। ऑनलाइन मुख्य परीक्षा की तिथि और स्थल से संबंधित विवरण जल्द ही साझा किए जाएंगे।
शीर्ष बैंक में 75 कैडर अधिकारियों के विभिन्न पदों पर भर्ती हेतु दिनांक 27.03.2021 को आयोजित ऑनलाइन प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट घोषित। रिजल्ट डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। शीर्ष बैंक में 75 कैडर अधिकारियों के विभिन्न पदों पर भर्ती हेतु ऑनलाइन मुख्य परीक्षा जून 2021 के तीसरे सप्ताह में आयोजित की जावेगी। ऑनलाइन प्रारंभिक परीक्षा में सफल हुए सभी उम्मीदवारों को हमारी बधाई। ऑनलाइन मुख्य परीक्षा की तिथि और स्थल से संबंधित विवरण जल्द ही साझा किए जाएंगे।

शीर्ष बैंक में 29 अधिकारियों के विभिन्न पदों पर भर्ती हेतु ऑनलाइन मुख्य परीक्षा का सूचना हैंडआउट।
 
इंटरनेट बैंकिंग (व्यू फैसिलिटी)
मोबाईल बैंकिंग
Message 6 Message 5 Message 4 Message 3 Message2 Message 7 Message 9 Message 10 Message 11

 

मध्यप्रदेश स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक लि. का पंजीकरण दिनांक 2.4.1912 (को-आपेरटिव्ह एक्ट 1912, धारा (2) अंतर्गत ) को जबलपुर में "Provisional Cooperative Bank Ltd. Central Provinces’’ के नाम से किया गया एवं इसके पश्चात बैंक का मुख्यालय नागपुर में स्थानांतरित हुआ। बैंक द्वारा अपना कार्य व्यवसाय मात्र 5.00 लाख की पूंजी से प्रारंभ किया गया था, जिसका प्रमुख उद्देश्य  कृषि ऋण हेतु वित्त पोषण था। आरंभ में बैंक के बोर्ड आॅफ डायरेक्टर में व्यक्तिगत शेयर होल्डरों को नामांकित किया जाता था, ताकि बैंक को लोकतांत्रिक दर्जा दिया जा सके। भविष्य में बैंक द्वारा संकलित अधिकतम शेयर को सहकारी संस्थाओं एवं जिला सहकारी केन्द्रीय बैकों में स्थानांतरित किया गया ताकि बैंक के बोर्ड में संस्थागत प्रतिनिधि आ सके। 

वर्ष 1956 में मध्यप्रदेश को-आरेटिव्ह बैंक लि. नागपुर का विभाजन होने से महाकौशल को-आपरेटिव्ह बैंक जबलपुर का निर्माण हुआ, जिससे 14 जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक संबद्ध हुए। वर्ष 1956 में ही देश में प्रदेशों का पुनर्गठन होने से 1 नवम्बर 1956 को मध्यप्रदेश राज्य का गठन हुआ, इसी के साथ महाकौशल को-आपरेटिव्ह बैंक का नाम बदलकर ‘‘मध्यप्रदेश राज्य सहकारी बैंक मर्या.’’(M.P. State Cooperative Bank Ltd.)  किया गया ।

Hide Main content block